The Hindi Biography

Hindi Biography, Motivation, Struggle And Goal Of Great Personalities, Read Autobiography In Hindi !

Tuesday, December 10, 2019

Ranveer Singh Biography - रणवीर सिंह जीवनी

Ranveer Singh Biography - रणवीर सिंह जीवनी रणवीर सिंह बॉलीवुड Industry में एक जाने माने बहुत बड़े स्टार और कलाकार है | ये bollywood के तीनो खान को अकेले टक्कर देने में सक्षम है | इनके काम और लगन को देखते हुए हर कोई इनके साथ काम करने के लिए तैयार रहता है और ये हर रोल को सभी situation में बखूबी निभाने की क्षमता रखते है | Ranveer Singh एक versatile actor है इन्होने Hero से लेकर villain का role भी बहुत अच्छे से किया है | तो आइये Ranveer singh की biography के बारे में जानते है | 
Ranveer Singh Biography - रणवीर सिंह जीवनी
Ranveer Singh Biography - रणवीर सिंह जीवनी
Sooraj Pancholi biography - सूरज पंचोली जीवनी  
Salman Khan biography - सलमान खान जीवनी  

Ranveer Singh Biography Age,Height And Wife 

Ranveer singh का जन्म 6 जुलाई  1985 को मुंबई के एक सिंधी family में हुआ था इसी कारण से इनका नाम भी सिंधी culture के हिसाब से रणवीर भवनानी रखा गया था | Ranveer singh का उपनाम बिट्टू है और इनकी Height 5 feet 10 inch है | इनका weight 77 किलोग्राम है और इनकी पत्नी का नाम Deepika Padukone है जो bollywood की मस्तानी है और Ranveer singh bollywood के बाजीराव है | 

रणवीर सिंह ने अपनी फिल्म की शुरुवात बहुत ही अच्छी रही इन्होने अनुष्का शर्मा के साथ अपनी पहली फिल्म की शूटिंग की थी और ये movie काफी successful भी रही थी | इस फिल्म का नाम Band Baza Baarat थी जिसके डायरेक्टर आदित्य चोपड़ा थे | इस फिल्म में रणवीर सिंह के काम को बहुत सराहा गया था उसके बाद उन्होंने Ladies vs ricky bahel में काम किया इसमें भी इनके काम को देखकर दर्शको ने बहुत तारीफ़ की | 

2013 में लूटेरा और गोलियों की रासलीला रामलीला में काम किया ये मूवी काफी हिट रही लेकिन विवादों से भी घिरी रही | फिर 2014 में  गुंडे, किल दिल और दिल धड़कने दो फिल्म आयी लेकिन ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ कमाल नहीं कर पायी और निराशाजनक रही | 

2015 में इनकी फिल्म बाजीराव मस्तानी आयी जो बॉक्स ऑफिस पर super duper hit रही और इन दोनों की जोड़ी को भी लोगो ने बहुत सराहा | इसके बाद 2016 में बेफिक्रे आयी जो काफी चर्चा में रही पर मूवी flop हो गयी | उसी साल इनकी negative role में film पद्मावत आयी जो bollywood में खलबली मचा दी | इस फिल्म में ये अलाद्दीन खिलजी के रोल में थे और अपने acting के जौहर से इस किरदार में जान डाल दी थी | ये film भी super duper hit रही थी |

Awards of Ranveer Singh 

रणवीर सिंह को सबसे पहले बैंड बाजा बारात के लिए बेस्ट मेल डेब्यू और स्टारप्लस हॉटेस्ट जोड़ी का अवार्ड्स भी मिला था | उसके बाद बाजीराव मस्तानी के लिए 2016 में अप्सरा फिल्म प्रोडूसर गिल्ड अवार्ड्स मिला था | 2015 में बिग स्टार एंटरटेनमेंट अवार्ड्स का रोमांटिक फिल्म में सबसे entertaining actor का awards मिला था | 2011 में इन्हे बेस्ट डेब्यू मेल अभिनेता का अवार्ड्स मिला था | स्क्रीन विकली और zee cine awards गोलियों की रासलीला रामलीला में रोमांटिक जोड़ी के लिए मिला था | 

रणवीर सिंह के निजी जीवन और विवाद 

  • अपने डेब्यू के साथ ही विवाद रखने वाले रणवीर सिंह कई बार विवादों को लेकर चर्चा में रहे जैसे सलमान खान या प्रियंका चोपड़ा या AIB Roast Youtube Channel में गलत भाषा का प्रयोग को लेकर हो सभी में ये विवादों से घिरे रहे है | 
  • रणवीर के डेब्यू का विवाद ये था की रणवीर के पिता ने प्रोडूसर को 10 करोड़ रूपये दिए है लेकिन कालान्तर में रणवीर और उनके पिता ने इस बात का खंडन किया | रणवीर ने कहा उस समय हमारी आर्थिक हालत ठीक नहीं थी तो उस समय हम 10 करोड़ कहा से देते | 
  • रणवीर सिंह और प्रियंका चोपड़ा के बिच विवाद फिल्म दिल धड़कने दो के दौरान हुआ था | जब फिल्म के प्रमोशन में रणवीर से प्रियंका से अभद्र व्यवहार किया था तब से प्रियंका नाराज़ हो गयी थी| 
  • रणवीर सिंह में एक playboy जैसी छवि दिखती है और इन्होने कई बार पब्लिक में इस बात को स्वीकार किया है की इनके बहुत से सम्बन्ध रह चुके है | 

Note (conclusion) 

दोस्तों इस पोस्ट में हमने देखा Ranveer Singh Biography - रणवीर सिंह जीवनी और इससे काफी कुछ सीखा कैसे इन्होने अपने करियर को बनाने के लिए इन्होने संघर्ष किया | दोस्तों ज़िंदगी में अगर सफल होना है तो कड़ी मेहनत और लगन ही एक ऐसा रास्ता जो आपको अपनी मंजिल की तरफ ले जायेगा | 

ये भी पढ़े !

Sunday, December 8, 2019

Bhimrao Ambedkar Biography - डॉ भीमराव अम्बेडकर जीवनी

Bhimrao Ambedkar Biography - डॉ भीमराव अम्बेडकर जीवनी बहुत ही inspiration देने वाली life story है | भीमराव अम्बेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 में मध्य प्रदेश के बहुत ही छोटे से गांव में हुआ था | Bhimrao ambedkar जन्म से ही बहुत बुद्धिजीवी थे और इनका मन पढने-लिखने  में बहुत ज्यादा लगता था | आज की इस पोस्ट में Dr. bhimrao ambedkar की पूरी जीवनी (Biography) के बारे में जानेंगे |
Bhimrao Ambedkar Biography - डॉ भीमराव अम्बेडकर जीवनी
Bhimrao Ambedkar Biography - डॉ भीमराव अम्बेडकर जीवनी

डॉ भीमराव अम्बेडकर का जीवन परिचय (Biography)

भीमराव अम्बेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को मध्य प्रदेश राज्य के एक छोटे से गांव महू नगर सैन्य छावनी में हुआ था | अम्बेडकर बहुत ही प्रतिभाशाली छात्र थे | ये कोलंबिया विश्वविद्यालय और लंदन स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स दोनों विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र की पढाई में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की है | Ambedkar जी Ramji मालोजी सकपाल और भीमाबाई की सबसे आखरी 14 वी पुत्र थे | ये हिन्दू छुद्र जाति से सम्बन्ध रखते थे | जो आज के समय में भी अछूत कई जगह माने जाते है लेकिन शहरीकरण की वजह से इस भेदभाव में बहुत कमी आयी है | इन्ही सब की वजह से इनको समाज में बहुत कुछ सहन करना पड़ता था और आर्थिक मामले में भी छुद्र जाति वालो के साथ भेदभाव होता था | इनके दादा परदादा ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना में बहुत लम्बे समय से काम करते थे |

Bhimrao ambedkar पढाई में बहुत ही बुद्धिमान थे | स्कूल की पढाई में बहुत तेज़ होने के बावजूद भी जाति पाति के कारण उन्हें बहुत सी मुसीबतो का सामना करना पड़ता था | रामजी आंबेडकर ने दुबारा शादी कर लिए और इनकी दूसरी पत्नी जीजाबाई थी | इनके पिता यानी रामजी की दूसरी शादी 1898 में हुई थी | 7 नवंबर 1900 में सतारा की सरकारी हाई स्कूल में Bhimrao Ambedkar का Admission कराया और नाम बदलकर भीमराव से भिवारामजी कर दिया गया | रामजी सकपाल परिवार के साथ मुंबई चले आये | अप्रैल 1906 में भीमराव आंबेडकर की शादी 15 साल की नाबालिक अवस्था में 9 साल की नाबालिक लड़की रमाबाई से करा दी गयी थी और ये तब 5 वी कक्षा में पढ़ रहे थे | उस समय छोटी उम्र में शादी का बहुत ज्यादा प्रचलन था |

Bhimrao Ambedkar का Education 

Ambedkar ने सतारा शहर में Government high school में अपनी प्रारंभिक शिक्षा आरम्भ की थी और वहा पढाई पूरी करने के बाद मुंबई चले गए | 1897 में अम्बेडकर जी का पूरा परिवार मुंबई चला गया वह के एक सरकारी स्कूल में आगे की पढाई पूरी की थी | 1907 में इन्होने 10th की exam पास की और एल्फिस्टन कॉलेज में प्रवेश किया जो बॉम्बे विश्वविद्यालय से सम्बद्ध था | इस level तक की पढाई करने वाले अपनी जाति के प्रथम व्यक्ति थे | अक्टूबर 1916 में ये लंदन चले गए और वह से इन्होने ग्रेज इन में बैरिस्टर कोर्स के लिए admission लिया | 1922 में इन्हे ग्रेज इन ने बैरिस्टर - एट -लॉज़ डिग्री प्रदान की और उन्हें ब्रिटिश बार में बैरिस्टर के रूप में प्रवेश मिल गया | 1923 में इन्होने अर्थशास्त्र में D.S.C (doctor of science) उपाधि प्राप्त की | 

छुआछूत के खिलाफ संघर्ष 

छुआछुत गुलामी से भी बदतर है | 1927 तक भीमराव अम्बेकर ने छुआछूत के खिलाफ एक व्यापक और सक्रिय आंदोलन आरम्भ करने का निश्चय किया | उन्होंने सार्वजनिक आंदोलनों, सत्याग्रहों और जुलूसों के माध्यम पेय जल के सार्वजनिक संसाधन समाज के सभी वर्गो के लिए खुलवाने के साथ ही उन्होंने अछूतो को भी मंदिरो में प्रवेश करने का अधिकार दिलाने के लिए संघर्ष किया | 

Bhimrao Ambedkar संविधान निर्माण 

15 अगस्त 1947 में भारत के आजादी के बाद कांग्रेस के नेतृत्व वाली नयी सरकार अस्तित्व में आयी तो उसने आंबेडकर को देश के पहले क़ानून एवं न्याय मंत्री के रूप में सेवा करने के लिए आमंत्रित किया जिसे इन्होने स्वीकार कर लिया | 29 अगस्त 1947 को आंबेडकर को स्वतंत्र भारत की रचना के लिए बनी संविधान की मसौदा समिति के अध्यक्ष पद पर नियुक्त किया गया | इस कार्य में आंबेडकर की शुरुवाती बौद्ध संघ रीतियों और अन्य बौद्ध ग्रंथो का अध्यन भी काम आया | 

आंबेडकर ने भारत के संविधान के अनुछेद 370 का विरोध किया , जिसने जम्मू कश्मीर राज्य को विशेष राज्य का दर्जा दिया और जिसे उनकी इच्छाओ के खिलाफ संविधान में शामिल किया गया था | 2019 में केंद्र सरकार ने धरा 370 को हटा दिया और कश्मीर राज्य पर भी भारत का संविधान लागू हो गया | 

पुरस्कार और सम्मान 

1990 में आंबेडकर को मरणोपरांत भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरूस्कार भारत रत्न से सम्मानित किया गया था | इस पुरूस्कार को सविता आंबेडकर ने भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति रामास्वामी वेंकटरमण द्वारा आंबेडकर के 99 वे जन्म दिवस 14 अप्रैल 1990 को स्वीकार किया था | यह पुरस्कार समरोह राष्ट्रपति भवन के अशोक हॉल में आयोजित किया गया था | 

Bhimrao Ambedkar का निधन 

राजनितिक मुद्दों से परेशान आंबेडकर का स्वास्थ बहुत ख़राब होता चला गया | 1955 के निरन्तर काम करने की वजह से और भी ज्यादा बीमार हो गए | अपनी अंतिम पाण्डुलिपि भगवान बुद्ध और उनका धम्म को पूरा करने के तीन दिन बाद 6 दिसंबर 1956 को आंबेडकर का नींद में ही उनके घर पर मृत्यु हो गयी थी | 

Conclusion (निष्कर्ष)

इस पोस्ट के माध्यम से हमने Bhimrao Ambedkar Biography - डॉ भीमराव अम्बेडकर जीवनी पर प्रकाश डाला और यदि आपको ये जीवन परिचय पसंद आया है तो हमे follow करे और इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे | इनके जीवन के संघर्ष को और भी लोगो तक जरूर पहुचाये |

Saturday, December 7, 2019

Sooraj Pancholi Biography - सूरज पंचोली जीवनी

Sooraj Pancholi Biography - सूरज पंचोली जीवनी के बारे में जानने के लिए इस पोस्ट को पूरा जरूर पढियेगा | Sooraj Pancholi का जन्म 5 july 1990 में उत्तर प्रदेश राज्य के लखनऊ शहर में हुआ था | सूरज पंचोली के पिता का नाम आदित्य पंचोली है और ये भी bollywood के हीरो रह चुके है | इनकी एक बड़ी बहन भी है जिनका नाम सना पंचोली है और इनकी माँ का नाम जरीन वहाब है जो फिल्म इंडस्टरीज में अच्छी कलाकार है |
Sooraj Pancholi Biography - सूरज पंचोली जीवनी
Sooraj Pancholi Biography - सूरज पंचोली जीवनी

Sooraj Pancholi Biography , Wiki , Height , Age  

सूरज पंचोली ने अपने career की शुरुवात Hero film से की थी जो की अच्छा content होने के बाद भी flop रही और कई विवादों की वजह से ये बॉलीवुड से कुछ सालो के लिए गायब ही हो गए थे | हालांकि सूरज पंचोली एक बहुत ही अच्छे एक्टर है | इनका जन्म 5 जुलाई 1990 में लखनऊ में हुआ था | सूरज पंचोली 9 साल की उम्र से ही मार्सल आर्ट सीखना शुरू कर दिए थे और 5 साल बाद 14 साल की age में ये पूरी तरह Trained हो गए | इनकी उम्र 30 साल हो गयी है और लम्बाई 5.8 इंच है | इनके शरीर का weight 73 किलोग्राम है |
  • Sooraj Pancholi Education 

सूरज पंचोली की पढाई मुंबई के पाली हिल स्कूल से हुई और किसी तरह 12th तक की पढाई पूरी की | उनका पढाई में मन नहीं लगता था इसलिए वो school से भाग कर इधर उधर घूमते थे इसलिए ये 12 वी में दो बार fail हो गए थे | 
  • Sooraj Pancholi Bollywood Career 

सूरज पंचोली का बॉलीवुड करियर हीरो मूवी से शुरू हुई और इन्होने फिल्म में एक्टिंग करने से पहले असिस्टेंट डायरेक्टर के तौर पे गुजारिश मूवी में ऐश्वर्या राय और ऋतिक रोशन को असिस्ट किया था | इन्ही दोनों को एक्टिंग करता देख इनका मन एक्टिंग करने का हो गया और ये उसी दिन ठान लिए की मै बहुत बड़ा एक्टर बनूंगा | इन्होने कुछ दिनों तक एक्टिंग क्लास भी ली थी | सलमान खान द्वारा निर्देशित फिल्म हीरो मूवी इनकी पहली फिल्म है लेकिन ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ ज्यादा collection नहीं कर पायी और flop हो गयी | 
2019 में इनकी एक और फिल्म आयी जिसका नाम satellite shankar है जो 10 दिनों में लगभग 5 crore का ही business कर पाया और ये फिल्म भी flop हो गयी |
  • Sooraj Pancholi upcoming movies

 इनकी आने वाली फिल्म time to dance की shooting ख़त्म हो गयी और जल्द ये बड़े परदे पे रिलीज़ हो जाएगी | अगले साल इनकी एक बड़ी फिल्म dhadkan 2 (धड़कन 2) भी आ सकती है | 
  • Sooraj Pancholi awards 

इन्होने अपनी पहली फिल्म से ही बहुत सारे awards अपने नाम कर लिए है | फिल्मफेयर , स्टारडस्ट और स्टारगिल्ड अवार्ड इन्होने अपनी Hero फिल्म की बदौलत पाया है | 
  • Sooraj pancholi age 

वैसे तो सूरज पंचोली देखने में अभी 22 साल के जवान लगते है लेकिन मैं आपको बता दू इनकी Age 30 years है | इनके fitness की वजह से उम्र में कम लगते है | आप भी अगर जवान दिखना चाहते है तो अपनी body को फिट रखिये और daily exercise जरूर करे और अच्छी खान पान का सेवन करे |

Some interesting facts about Sooraj pancholi 

  • इनको जानवरो से काफी लगाव है और ये एक बार मार्केट ढेर सारे जानवरो को अपने घर लेके आये थे | वैसे जानवरो और nature से जुड़े रहना बहुत जरुरी है | 
  • ये tiger shroff को बहुत पहले से ही जानते थे और इन दोनों में काफी अच्छी bonding है | 
  • इनको बॉडी को लेकर काफी serious रहते है थोड़ी सी भी fitness के लिए compromise नहीं करते है | 
  • सूरज के पास आज भी कुत्ते बिल्ली और चूहे है | 

Conclusion

तो ये रहा इनका लाइफस्टाइल और इनके जीवन के बारे में उम्मीद है सूरज अपने career में और भी उचाईयों को छुए | इस पोस्ट के माध्यम से हमने Sooraj Pancholi Biography - सूरज पंचोली जीवनी के बारे में पढ़ा और अगर पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करे धन्यवाद |

ये भी जरूर पढ़े !

Wednesday, December 4, 2019

Nawazuddin Siddiqui Biography in Hindi - नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी जीवनी

Nawazuddin Siddiqui Biography in Hindi - नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी फ़िल्मी दुनिया के जाने माने बहुत बड़े actor है | इस पोस्ट के जरिये हम आपको इनकी Hindi biography को बताने की कोशिश करेंगे और इनके life से आपको बहुत कुछ सिखने को भी मिलेगा | आज के समय में शायद ही कोई Nawazuddin siddiqui के बारे में ना जानता हो | ये एक बहुत बड़े बॉलीवुड कलाकार है जिन्होंने ने अपने acting के दम पर Bollywood की दुनिया में अपनी छाप छोड़ी है | चलिए इनके जीवन के बारे में जानते है |
Nawazuddin Siddiqui Biography in Hindi - नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी जीवनी
Nawazuddin Siddiqui Biography in Hindi - नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी जीवनी

Nawazuddin Siddiqui Biography in Hindi wiki and lifestyle 

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी का जन्म 19 May 1974 को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर, बुधाना कस्बे में हुआ था | इनके पिता किसान है और खेती बारी करते है | नवाज़ुद्दीन एक मुस्लिम परिवार में जन्मे थे और जब भी इनको Time मिलता है तो ये अपने खेतो में काम जरूर करते है | ये 9 भाई बहनो में सबसे बड़े है | इनकी पढाई 12th और Graduation तक हुई है | बहुत लोग ये जानते है की नवजुद्दीन सिद्दीकी एक गरीब परिवार से है लेकिन मैं आप लोगो को बता दू ये जमींदार किसानो के परिवार से belong करते है | जबकि अपना career बनाते समय इन्होने अपने घर से पैसो की कोई मदद नहीं ली | बहुत बुरे दिन इन्होने देखे और उन्ही चीज़ो से ये स्ट्रांग यानी मजबूत बने | 
यह हमेशा से अपने गांव से निकल कर बाहर पढ़ना चाहते थे | intermediate तक की पढाई गांव में की और बाद में ये हरिद्वार चले गए क्योकि गांव का माहौल पढाई के अनुकूल नहीं था | इन्होने हरिद्वार से ही गुरुकुल कंगरी विश्वविद्यालय से अपनी B.s.c की पढाई पूरी की | इसके बाद वड़ोदरा गुजरात के कंपनी में काम करने लगे लेकिन वहा उनका काम में मन नहीं लग रहा था फिर भी वो काम करते जा रहे थे | दिन उनका दोस्त film दिखाने के लिए ले गया और फिल्म देख कर उनको ऐसा लगा की मैं इसी काम के लिए बना हु और दोस्त से उसी बारे में सलाह लिया तो उनका दोस्त बोलै actor बनने के लिए acting सीखना पड़ेगा फिर क्या था नवाज़ुद्दीन ने National school of drama में admission ले लिया और वही उनका 1996 में graduation कम्पलीट हो गया | 

Nawzuddin siddqui 's wife 

नवाज़जुदीन सिद्दीकी की शादी हो चुकी है और उनकी एक लड़की भी है जिसका नाम शोरा है | इनकी पहली पत्नी का शीबा है जिनसे इनका तलाक हो चूका है | करीब एक साल तक अंजली की कोई खबर न आने से नवाज की माँ ने नवाज की शादी शीबा से करवा दी | जबकि नवाज अंजलि से बेहद प्यार करते थे क्योकि ये उनका पहला प्यार था और शीबा से इनकी शादी इनकी माँ ने जबरदस्ती करा दी थी | अंजलि से नवाज़ की आये दिन झगड़े होते थे इसलिए अंजलि इनको छोड़कर अपने दोस्त के यहाँ चली गयी | फिर काफी वक्त निकलता गया और वो लौट के नहीं आयी और नवाज़ ने भी उन्हें ढूढना बंद कर दिया और शादी करने की कसम खा ली | जब इनका तलाक हुआ उसके बाद अंजलि इनकी जीवन में फिर वापिस आ गयी और शादी कर ली | जब इनका निकाह हो रहा था तब अंजलि ने अपना नाम बदलकर जैनब रख लिया था और तीन साल बाद फिर अपना नाम अंजलि ही रख लिया |

Nawazudin siddiqui career 

इनके bollywood career की शुरुवात शूल और सरफ़रोश जैसे फिल्मो से हुई  फिल्मो में इनका कुछ ज्यादा role नहीं था | ऐसी छोटो बड़ी फिल्मो में काम किये इनकी acting तो लाजवाब थी परन्तु इनको बड़ा role नहीं मिलता था | इनकी असली पहचान तो पीपली लाइव, the lunch box, गैंग्स ऑफ़ वासेपुर , कहानी ,किक जैसे फिल्मो से हुई | इनको कई बड़ी फिल्मो में अपने किरदार के लिए लोहा मनवा चुके है | nawazuddin siddiqui की कुछ महत्वपूर्ण फिल्मे जैसे मांझी द माउंटेन मैन ,  किक , ठाकरे , रईस और मंटो है | 

Award (पुरस्कार)

फिल्म लंच बॉक्स के लिए supporting actor के पुरस्कार के साथ ही तलाश , कहानी , गैस ऑफ़ वासेपुर , The Great Indian Circus के लिए इन्हे राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जा चूका है | IIFA Awards , screen awards , zee cine awards , Asia पसिफ़िक स्क्रीन awards से भी सम्मानित किया जा चूका है | 

My opinion 

तो इस पोस्ट से हमने Nawazuddin Siddiqui Biography in Hindi - नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी जीवनी के बारे में जाना और इनके life से बहुत कुछ अच्छा सिखने को भी मिला | इनके जीवन के संघर्ष ही आज इनको इस मुकाम पर पंहुचा दिया है की ये आज bollywood के बड़े बड़े सितारे इनके साथ काम करना चाहते है | इनकी एक web series sacred games काफी चर्चा में रही और इसका दूसरा सीज़न भी आ चूका है जिसे आप netflix पर देख सकते है | 

ये भी पढ़े !